History of America in Hindi अमेरिका का इतिहास

अमेरिका का इतिहास भारत के इतिहास जितना पुराना नहीं है, भले ही हजारों साल पहले शुरू कर दिया था कोलंबस यूरोप से भारत को जाने वाला समुद्री रास्ता खोजने निकल पड़ा उसे पूरा विश्वास था कि पृथ्वी गोल है और पश्चिम की तरफ समुद्र के रास्ते जाने से जरूर भारत पहुंचा जा सकता है पर उस समय कोलंबस समेत यूरोप लोगों को इस बात की जानकारी नहीं थी कि पृथ्वी पर यूरोप एशिया और अफ्रीका के सिवाय और भी कई बड़े-बड़े मौजूद है समुद्री यात्रा करते हुए समुद्री यात्रा करते हुए कोलंबस जब अमेरिकी महाद्वीप के पास 121 Degree पर पहुंचा तो उसे लगा कि वह भारत के पास के सभी पर पहुंच गया है बाद में उसने कई और तरीकों की भी यात्रा कि जिन पर उसे कुछ आदिवासी मिले जो थोड़े लाल रंग के थे कोलंबस ने उन्हें भारतीय समझकर रेड इंडियन नाम दे दिया अमेरिका के मूल निवासी भी ** भारत की खोज कर ली है इसके बाद समुद्र के रास्ते समुद्र के रास्ते भारत पहुंचने को आतुर थे। 
History of America in Hindi

 History of America in Hindi

 कहानी में मोड़ तब आया जब रमेश नाम की खोज यात्री ने यह बताया कि कोलंबस ने जिन विभागों को खोजा था वह भारत नहीं बल्कि नए प्रदेश है हमारी के नाम पर ही पड़ गया जो बाद में उत्तरी और दक्षिणी अमेरिका के बारे में जानकारी के बाद में उन्हें अपने निवेश बनाने की होड़ मच गई जिसमें ब्रिटेन स्पेन और फ्रांस सबसे आगे थे आज के अमेरिका देश के पूर्वी हिस्से में ब्रिटिश लोगों ने अपनी अलग-अलग पहरा कॉलोनियां बसा ली थी जो ब्रिटिश झंडे के नीचे रह कर अपना शासन चलाती थी इन 13 कॉलोनियों में इंग्लैंड के सिवाय यूरोप के अन्य लोग भी रहते थे समय-समय पर इन 13 कॉलोनियों के लोगों का अमेरिकी मूल के निवासियों के साथ जिसमें यूरोपियन लोग मूल निवासियों को हराने में सफल भी रहे यह कॉलोनी 1607 1733 की सुई के बीच फंसी थी अमेरिका के पूर्वी क्षेत्र में बसी 13 कॉलोनियों के लोग ब्रिटिश सरकार की नीतियों से संतुष्ट नहीं थे और उन्होंने 4 जुलाई 1776 को अपने आप को एक स्वतंत्र राष्ट्र घोषित कर दिया जिसे उन्होंने नाम दिया संयुक्त राष्ट्र America.

राष्ट्र संयुक्त राज्य अमेरिका का जन्म, संविधान


यूनाइटेड स्टेट्स को एक अलग देश की मान्यता दे दी और इसी तरह से जन्म हुआ आज के सबसे शक्तिशाली राष्ट्र संयुक्त राज्य अमेरिका का 1788 में संयुक्त राष्ट्र में अपने संविधान को लागू किया और जॉर्ज वॉशिंगटन के पहले राष्ट्रपति बनने के बाद शुरू कर दिया शुरू कर दिया 1803 ईसवी में उसने उत्तर अमेरिका के एक बड़े भूभाग लूसियाना को प्रांत से खरीद लिया और इस तरह संयुक्त राष्ट्र का क्षेत्रफल लगभग 3 गुना हो गया अमेरिकियों ने महाद्वीप के सभी मूल निवासियों को खदेड़ दिया और मैक्सिको को हराने के बाद उसका क्षेत्रफल लगभग कितना हो गया 18 सो 61 से 18 सो 65 के बीच अमेरिका के उत्तरी राज्य और दक्षिणी राज्यों के बीच लड़ा जाने वाला एक भयंकर युद्ध था दास प्रथा को लेकर हुआ था जिसमें उत्तरी राज्य दास प्रथा को खत्म करने के हक में थे जबकि दक्षिणी राज्य यह नहीं चाहते थे अमेरिका के उत्तरी राज्यों ने धीरे-धीरे दास प्रथा को खत्म करने के कानून बना लिए थे जबकि दक्षिण अफ्रीका से हुए काले गुलाब देने को तैयार नहीं थे दक्षिणी राज्य अमेरिका से अलग होकर एक अन्य देश बनाना चाहते थे।  

अमेरिका में दास प्रथा

जो 10 पदों को खत्म करने के हक में थे और साथ ही वे चाहते थे कि अमेरिका की एकता और अखंडता बनी रहे दास प्रथा को लेकर 1861 में उत्तरी और दक्षिणी राज्यों के बीच एक भयंकर युद्ध शुरू हुआ जिसमें उत्तरी राज्यों की अगुवाई अब्राहम लिंकन खुद कर रहे थे लंबे युद्ध के बाद उत्तरी राज्यों ने दक्षिणी राज्यों का हरा दिया और इस तरह से अमेरिका में दास प्रथा खत्म हो गई है। गृह युद्ध के बाद अमेरिका में पुनर्निर्माण औद्योगीकरण का विकास शुरू होगा इस समय के दौरान यूरोप से था। अमेरिका में 10 पता खत्म हो गई है गृह युद्ध के बाद अमेरिका में पुनर्निर्माण और औद्योगीकरण का विकास शुरू होगा इस समय के दौरान यूरोप से बड़ी गिनती में लोग आकर अमेरिका में बसे यह वह समय था जब अमेरिका विश्व पटल पर एक महाशक्ति बनकर उभरने लगा के उत्तर में दक्षिण के मुकाबले ज्यादा विकास हुआ क्योंकि वहां की भौगोलिक परिस्थितियां विकसित हो चुके थे और लोहे का उत्पादन बढ़ाने काम करने लगे रेल बिजली और टेलीफोन ने अमेरिका को विकसित होने में काफी संसार के सबसे शक्तिशाली देश है दोस्तों अगर आपको पसंद आया कमेंट।

0/Comments = 0 Text / Comments not = 0 Text

Thank you For Reviewing

Previous Post Next Post