World Hindi Day 2022: क्या है कारण विश्व हिंदी दिवस मानाने का

आज के इस लेख में हम जानेंगे कि Vishwa Hindi Divas 2022 क्यों मनाया जाता है. इसके साथ विश्व हिंदी दिवस मानाने का उद्देश्य और कहाँ मनाया जाता है इन सभी के बारे में जानने वाले है. World Hindi Day  10 जनवरी को मनाने के पीछे की वजह भारत के तत्कालीन प्रधान मंत्री डॉ मनमोहन सिंह है. जिन्होंने 10 जनवरी 2006 को World हिंदी दिवस के रूप में घोषित किया था। उसी साल से भारत में World Hindi Divas सभी सरकारी कार्यालयों के साथ दूतावासों में मनाया जाता है। तो चलिए शुरू करते है और जानते है World Hindi Day या Vishwa Hindi Divas दुनिया भर में क्यों मनाया जाता है इसका मूल उद्देश्य के  बारे में.

World Hindi Day 2022

World Hindi Divas 2022 - 10 जनवरी ही क्यों?

10 जनवरी 2022 को "World Hindi Divas" मनाने के पीछे की कारण 10 जनवरी 1975 को नागपुर, महाराष्ट्र में प्रथम विश्व हिंदी सम्मेलन आयोजित किया गया था. तब से लेकर अब तक 10 जनवरी को विश्व हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है.  World Hindi Day को वर्ष 2006 में भारत के तत्कालीन प्रधान मंत्री डॉ मनमोहन सिंह द्वारा पहला विश्व हिंदी दिवस के रूप मनाया गया था। हर आमतौर हर साल 10 जनवरी के अलावा हिंदी दिवस को 14 सितंबर को मनाया जाता है।

World Hindi Day अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर हिंदी को बढ़ावा देने के लिए प्रथम विश्व हिंदी सम्मेलन की वर्षगांठ मनाने के लिए चुना गया था। आज के समय में हिंदी हर जगह पर बोली जाती है. विश्व हिंदी दिवस का उद्देश्य दुनिया भर में हिंदी को अंतर्राष्ट्रीय भाषा के रूप में प्रस्तुत करना और उपयोग को बढ़ावा देना है। 

Hindi Diwas 2022: FAQ

पहला हिंदी दिवस कब मनाया गया?

World में पहली बार Hindi Divas 10 जनवरी 2006 को मनाया गया था. उसी साल से 10 January को  विश्व हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है. 

Hindi Divas 14 सितम्बर को ही क्यों मनाया जाता है?

विश्व हिंदी दिवस 14 सितम्बर को मानाने का मूल कारण यह है कि 14 सितंबर 1949 को भारत की संविधान सभा द्वारा Hindi को राजभाषा के रूप में दर्जा दिया गया था. तभी से अंतरराष्ट्रीय भाषा के तौर पर हर साल 14 सितंबर को हिंदी राजभाषा दिवस मनाया जाता है.

Post a Comment

0 Comments